Breaking News
         

स्पेन: बार्सिलोना में ISIS आतंकी ने भीड़ में घुसाई वैन, 13 की मौत, पुलिस ने मार गिराए 4 संदिग्ध




स्पेन के बार्सिलोना में एक भीड़-भाड़ वाली सड़क पर एक ड्राइवर ने अपना वैन भीड़ में घुसा दिया, जिसमें कम से कम 13 लोगों की मौत हो गई. वहीं स्पैनिश पुलिस का कहना है कि उन्होंने कैम्ब्रिल्स में एक दूसरे संभावित आतंकी हमले को रोकते हुए चार संदिग्ध आतकियों में भी मार गिराया है. खुद को इस्लामिक स्टेट बताने वाले आतंकी संगठन आईएसआईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है.

क्षेत्रीय गृहमंत्री जोआकिम फोर्न ने एक ट्वीट में कहा, ‘हम पुष्टि कर सकते हैं कि 13 लोगों की मौत हुई और 50 से ज्यादा लोग घायल हुए.’ वहीं कैटेलान पुलिस ने कहा कि उसने एक संदिग्ध को गिरफ्तार किया है. पुलिस यूनियन के अनुसार संदिग्ध की पहचान ड्रिस ओउकाबीर के तौर पर की गई है. इस मामले में एक अन्य संदिग्ध को भी गिरफ्तार किया गया है.

बेरूत से मिली खबर में एक अमेरिकी निगरानीकर्ता के मुताबिक, आतंकवादी संगठन आईएसआईएस के प्रचार संगठन अमाक ने कहा है कि इस्लामिक स्टेट के ‘सैनिकों’ ने बार्सिलोना में वैन से हमला किया. खुफिया समूह एसआईटीई ने अमाक के हवाले से कहा है, ‘बर्सिलोना हमले को अंजाम देने वाले इस्लामिक स्टेट के सैनिक थे.’

बता दें कि लास रामब्लास नाम की जिस जगह पर यह हमला हुआ, वह बर्सिलोना का हॉट स्पॉट माना जाता है. यहां पर दुकानों और रेस्तरां की भरमार है, जहां पर्यटकों का जमघट लगा रहता है और कई कलाकार देर रात तक अपनी कला का प्रदर्शन करते हैं.

हमले वाली जगह पर मौजूद चश्मदीदों ने बताया कि लोग अचानक एक के ऊपर एक गिरने लगे और वहीं दूसरे लोग अपनी जान बचाकर भागने लगे. वहीं पास ही की एक दुकान में काम करने वाले शावी परेज ने कहा, ‘वहां काफी नुकसान हुआ. फर्श पर लोगों की लाश थी, जिसके बगल में लोग शोर मचा रहे थे. लोग जोर-जोर से पुकार रहे थे. वहां काफी विदेशी थे.’

एक अन्य चश्मदीद आमिर अनवर ने ब्रिटेन के स्काई न्यूज टेलीविजन से कहा कि वह लास रमब्लास की ओर जा रहे थे, जहां पर्यटकों का तांता लगा हुआ था. उन्होंने कहा, ‘यह सब अचानक हुआ. मैंने जोर से कुचलने की आवाज सुनी और सड़क से लोगों को इधर-उधर भागते हुए देखा. मैंने बगल में एक महिला को अपने बच्चों के साथ मदद के लिए पुकारते देखा.’

वहीं चैरिटी डायरेक्टर एथन स्पीबे ने कहा घटना के बाद उन्होंने और कई दूसरे लोगों ने खुद को पास के एक गिरजाघर में बंद कर लिया. उन्होंने कहा, ‘अचानक यह सब ऐसे हुआ कि अफरातफरी मच गई. लोग दहशत में भागने लगे.  एक तरह से भगदड़ सी मच गई थी.



हाल के वर्षों में समूचे यूरोप में गाड़ियों को भीड़ में घुसा कर हमले की कई घटनाएं देखने को मिली हैं. हालांकि स्पेन ऐसे हमलों से बचा हुआ था, जबकि पास की फ्रांस, बेल्जियम और जर्मनी में इस तरह की घटनाएं हो चुकी है.

इस हमले के बाद बार्सिलोना की सड़कों पर अफरातफरी और दुनिया भर के नेताओं ने घटना की निंदा की है. स्पेन के शाही परिवार ने घटना की निंदा करते हुए कहा है कि उनका देश अतिवादियों के ‘आतंक’ के सामने नहीं झुकेगा.

वहीं अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने ट्वीट किया, ‘स्पेन के बार्सिलोना में आतंकी हमले की अमेरिका निंदा करता है और हम हरसंभव सहायता करेंगे.’ फ्रांस के राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रो ने कहा कि उनकी संवेदनाएं ‘त्रासद हमले’ के पीड़ितों के प्रति है. जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने हमले की निंदा की. ब्रिटिश प्रधानमंत्री टेरीजा मे ने ट्विटर पर कहा कि आतंकवाद के खिलाफ लंदन स्पेन के साथ है.

Read More

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *