Breaking News
         

आलराउंडर रविंद्र जडेजा सस्पेंड

दुनिया के नंबर एक गेंदबाज और आलराउंडर जडेजा को पिछले 24 महीने में छह नकारात्मक अंक मिलने के कारण एक मैच के लिए निलंबित किया गया है. उनका अपराध पिच पर दौड़ना और विरोधी खिलाड़ी की तरफ खतरनाक तरीके से गेंद फेंकना है. इस निलंबन के कारण वह कल से शुरू होने वाले मैच में नहीं खेल पाएंगे. निलंबन के कारण कल से शुरू होने वाले तीसरे टेस्‍ट में शीर्ष स्पिनर रवींद्र जडेजा की सेवा से वंचित भारतीय कप्तान विराट कोहली ने आज आईसीसी से अपील की कि खिलाड़ियों की आचार संहिता से जुड़े नियमों को लागू करने को लेकर अधिक निरंतरता हो.


श्रीलंका के खिलाफ तीसरे और अंतिम टेस्ट की पूर्व संध्‍या पर कोहली ने कहा, ‘मुझे लगता है कि यहां से आगे बढ़ते हुए खिलाड़ियों को अधिक जागरुक होना चाहिए. उम्मीद करते हैं कि अब से दिशानिर्देश समान होंगे क्योंकि यह स्थिति के अनुसार बदलने नहीं चाहिए.’ उन्होंने कहा, ‘अगर इसमें निरंतरता होती है तो मुझे लगता है कि आगे बढ़ते हुए यह अच्छा है क्योंकि बेशक खिलाडि़यों को बेहतर पता होगा कि मैदान पर उन्हें कैसा बर्ताव करना है. इससे खेल के बेहतर होने में मदद मिलेगी.’
निलंबन के संदर्भ में कोहली ने कहा कि खिलाड़ियों को आईसीसी के नियमों को समझना चाहिए लेकिन संचालन संस्था को इस तरह के अहम फैसले करने से पहले अधिक निरंतरता दिखानी चाहिए. कोहली ने कि नियमों में अधिक स्पष्टता होने पर खिलाड़ी इनका उल्लंघन करने से बचेंगे.
उन्होंने कहा, ‘सबसे पहले तो हमें यह बिलकुल स्पष्ट करने की जरूरत है कि क्या चीजें इसके दायरे में आती हैं और मैदान पर रहते समय खिलाड़ी को क्या चीजें दिमाग में रखने की जरूरत है. मैदान पर काफी चीजें होती हैं जिनमें से कुछ आप मौके की गर्मी में कर देते हैं.’ कोहली ने कहा, ‘लेकिन आपको नहीं पता कि क्या करने पर आपके खाते में एक या दो या तीन अंक जुड़ जाएंगे. इसलिए मुझको लगता है कि आजकल इरादे पर गौर किया जाता है और खिलाड़ी को इसे ध्यान में रखना चाहिए. यह भले ही छोटी चीज हो लेकिन अगर इरादा कुछ गलत करने का है तो बेशक यह खिलाड़ी के खिलाफ जाता है.’





Source Bhopal Samachar

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *